Friday, 27 March 2020

HDMoviesHub 2020- Bollywood Hollywood HD Movies , 300mb movies, hindi dubbed movies, site review - celebrationishere

Hdmovieshub 2020 - Bollywood  Hollywood HD movies , 300mb movies, hindi dubbed movies,  site review

Free movies download site HDmovieshub, Download movies from HDmovieshub
HDmovieshub


Are you fond of watching TV? So you have come to the right website. You are going to know about how you can download movie  free. HDmovieshub is the website where you can download hollywood movies, bollywood movies in the best hd quality.


Today we are going to tell you about a movie site. Where you can download movies and you can watch movies online. So stay with us and read this article till end.

But this website is illegal and doing work illegally is a crime. Their team got lot of warning. But they don't left doing wrong work. But you can safe with this website if you cannot download movies from it.

Introduction of HDmovieshub 2020:-

HDmovieshub is the pirated movies website who provides all Bollywood Hollywood movie. With the help of this pirated movies site, you can download all movies such as Bollywood Hollywood and other movies.you may know due to piracy many problem facing by movies industry and government.


This website also provide Adult content which is crime according to Google. This website also provide all Netflix series. And all TV shows series.

What is  HDmovieshub:- 

HDmovieshub is the pirated movies site where you can download movies free.team of HDmovieshub provides all new movies of Hollywood Bollywood till you. this is illegal site according to government. There are many Domains are resistered of HDmovieshub. HDmovieshub also provides movies in their app.

They pirate all movies of Hollywood Bollywood  and other. They provide all movies with in 24 hours for release. You can watch online movies and you can download movies.




How to download movies from HDmovieshub:-

Are you want to download movies from HDmovieshub? So follow all step. 


Step 1:- 

Open Google in your smart phone or Laptop. Then search by written "HDmovieshub". Many types of website will be open but you have to click on "HDmovieshub.de".


Step 2:- 
After passing first step you'll face HDmovieshub interface. There will be many types of Hollywood movies, Bollywood movies, hindi dubbed movies.

Free movies download site HDmovieshub , HDmovieshub site review
HDmovieshub

Step 3:- 
Now you have to choose movies which you want to download. Then click the movie, then choose pixel ( 360p, 480p , 1080p) then click on download botton.


Step 4:- 
Your movie will be downloaded. You have to export it. Then completed.


How it started of HDmovieshub:- 

HDmovieshub is very old movie site which is 1 year 7months old. First domain of HDmovieshub is booked on 2017. Google blocked it first domain on 28th August 2019.then they try different domains. 

They start this website with Hollywood movie and the they start to pirate of Bollywood movies and all types of movies. 

They got permission with DMCA by USA. And started world wide network. 


Category of movies leaked by HDmovieshub:-

  • Bollywood
  • Animation
  • Motion
  • Journey
  • Cartoon
  • Biography
  • Documentary
  • Drama
  • Crime
  • Comedy
  • Fantasy
  • Household
  • Horror
  • Historical past
  • Sci-Fi
  • Troopers
  • Thriller
Victim companies -

  • Internet Sequence
  • Motion Sequence
  • AMC Sequence
  • Amazon Prime
  • Newest Netflix
  • Netflix Sequence
  • HBO Sequence
  • Hindi Dubbed Motion pictures


Alternative site of  HDmovieshub:-

After Google blocked their first domain they try many others site which is the part of HDmovieshub. Alternative sites also provide movies but according to arrangements.


HDMoviesMaZa
Yomovies
M4ufree

HDMoviesMaZa provide movies according to language such as Telugu and Tamil. But this site is not live.

Yomovies provide all Hollywood Bollywood movies but they provide movies in telegram channel.

M4ufree in this site you can see all movies online and TV shows online. According to your interest.


  • Moviesda
  • Moviezwap
  • 8XMovies
  • Downloadhub
  • A to z motion pictures
  • 9xmovies
  • worldfree4u
  • Cinemavilla
  • Movierulz
  • DVD Rockers
  • Sdmoviespoint
  • Pagalworld
  • Prmovies




Alternative domain of HDmovieshub:-

HDmovieshub have many domain due to Google blocked their all domain because of there piracy policy. But HDmovieshub always come with their new domain. Till now they tried more then 20 domain. 

.COM, .IN, .XYZ,  .CLUB, .PW,  .CC, .DE and many other domain which they have been used till now. 

Due to the piracy of HDmovieshub this is illegal website so this is not safe website. Who download movies from website is also a crime. 


  • hdmovieshub in
  • hdmovieshub me
  • hdmovieshub membership
  • hdmovieshub cc
  • hdmovieshub information
  • hdmovieshub one
  • hdmovieshub pw
  • hdmovieshub com
  • hdmovieshub vip
  • hdmovieshub professional
  • hdmovieshub web
  • hdmovieshub wiki

HDmovieshub App :- 

HDmovieshub have also their App which  provides all Hollywood Bollywood movies and hindi dubbed movies free. This app is also very popular app. More the 1 lakhs have their downloaders. The rating of this app is 3.0 and this is 6.3 mb big app and there are many features are in it. 

This App is also illegal but due to policy of play store this app is live on all platform of Android and IOS. Huge people are live in their app. Their app is also do piracy of movies. 

In this app Free Movies App is one-stop destination to watch free latest movies without downloading, no signing up, no credit cards or paid subscriptions bills required to watch movies online.
The last update of this app was on November 2019.


Flim quality and dimension of HDmovieshub :-

There are many types of quality and dimension given by HDmovieshub. So, let's know about quality and HDmovieshub. 
Quality of HDmovieshub -

  • HD
  • 1080p decision
  • 720p decision
  • 480p decision
  • 360p decision
  • 240p decision
  • 140p decision
Flim dimension of HDmovieshub-

  • 700MB Motion pictures
  • 400MB Motion pictures
  • 300MB Motion pictures
  • 150MB Motion pictures
  • 250MB Motion pictures

Global Network of HDmovieshub :-

Global network of HDmovieshub is world wide very large. Indian and foreigners also visit this website. Lot of people visit every day and download movies and watch movies online. 

Due to this is USA based website large of people visit to download Hollywood movie. 

‌About dashboard:-

The Dashboard of HDmovieshub is very simple. When you will visit this you will see that in above side the option show of chose pixle and 300 mb. 

In the bottom you'll see the option of About us, privacy policy, contact us, site disclaimer, DMCA, Broken link. 

‌About SEO according to HDmovieshub
The seo ranking of HDmovieshub is always be low because they are used to change their domain. And spam score is be very high due to piracy. 

‌live website in 2020 :-

This is the problem of HDmovieshub that they change their domain continue. The live domain of HDmovieshub is "HDmovieshubz.in" Due to their piracy google blocked their Domains. There are the lots of domain they have been used. 

‌last domain of HDmovieshub :-

The last Domains of HDmovieshub is changed in 26th March 2020.Last domain of HDmovieshub is .CC. Which was blocked by google. 

Is HDmovieshub illegal:-

Is HDmovieshub illegal? 
Yes, because they are doing piracy of movies. Which is illegal and download movies by illegal sites is a crime. There are many types of warning and cases they had faced. 

Therefore, in India, through every TV channel and ADS, the campaign has been done by celebrities.  Through which this pirated content can be stopped.  Gradually, its effect is also visible.  Now all the people are slowly leaving the illegal nation and watching the film in the right way.  HDmovieshub Bollywood Movie.


  According to the law of India, if you are caught stealing and downloading pirated material, then your case can also be prosecuted.  HDmovieshub 300 MB.



Latest  update in 2020:- 

HDmovieshub changes in there site in starting of 2020. They comes with new domain which is .DE.now they are running their website with this domain. Now millions of visitors vist their website per month. 

In 2020 they changed 2 domain till April. On 26th March  2020 the change  .CC to   .DE  . Now they are running website with this new domain. Now new visitors visit their website in domain  .DE.


Search keywords

Many people find HDmovieshub  by different keywords. Most searchable keywords after HDmovieshub is HDmoviehub. 

Most searchable website after HDmovieshub.de are HDmovieshub.cc and HDmovieshub.club

conclusion
We are not promoting any illegal website such as HDmovieshub. We are giving pure information and arising the people who are doing illegal work. This is a crime to download movies from illegal website. 

Disclamair
If you want to download movies from HDmovieshub or other illegal website so this is a crime and it causes jail. This is the time to left this type of work. The team of celebrationishere is against to promote illegal website. 

Thursday, 23 January 2020

Street dancer 3d। Full movie download HD leaked online by TamilRockers


Street dancer 3D full movie download HD leaked online by TamilRockers

Street dancer 3D full movie download HD leaked online by TamilRockers, hindi new movie download
Street dancer 3D

एक बार फिर से Piracy website Tamilrockers ने अपना काला कारनामा करना शुरू कर दिया है. इस पायरेसी वेबसाइट ने Bollywood की Drama, Romance फिल्म        "Street Dancer 3D" को अपने साईट में अपलोड कर दिया है. इस फिल्म में मुख्य रूप से feature कर रहे हैं, Varun Dhawan, Shraddha Kapoor, Nora fathei, carolline wilde, Raghav Juyal, Prabhu Deva,  aparshakti Khurana,  Dharmesh yelande, Punit Pathak, Salman Yusuff Khan ये सभी मुख्य Cast है।

Tamilrockers को इतने सारे warnings और court orders भेजने के बाद भी Tamilrockers ने अपना काम करना नहीं छोड़ा है। वहीँ इससे पहले भी Madras High Court ने इस साईट को बहुत बार ban कर चुके हैं. लेकिन हर बार की तरह यह piracy website “Tamilrockers” फिर से एक नए domain के साथ उपस्तिथ हो जाता है। और नई Movie को leak करने लगते है।



Street dancer 3D Movie Download Leaked Online in HD Quality by Tamilrockers

Street dancer 3D:  The Dance battle movie 2020 है। इस movie मे Dance के नृत्य के विविध रंगों और एक ही कारण से एक साथ आने वाले दो अलग-अलग समूहों के बीच होने वाली एकता पर आधारित एक नृत्य महाकाव्य है। इस मे मुख्य Cast Varun Dhawan, Shraddha Kapoor, Nora fathei, carolline wilde, Raghav Juyal, Prabhu Deva,  aparshakti Khurana,  Dharmesh yelande, Punit Pathak, Salman Yusuff Khan role मे है।

इस Film को Direct किया गया है  Remo D'Souza के द्वारा, वहीँ film को set किया गया है,
London मे जहाँ एक Dance competition रहता है। और India और Pakistan की Dance team का मुकाबला होता है।

इस फिल्म की Principal photography की शुरुवात की गयी है February 209 से, और film को theatrically release किया जा चूका है 3D में 24 January 2020 को पुरे भारत में.

Street Dancer 3D इस वर्ष 2020 की एक highest-grossing Bollywood Movie है जिसने की करीब 50 crore की कमाई की हुई है.
वहीँ इस फिल्म ने अपने पहले दिन के release में करीब 509 करोड़ का business किया हुआ है. वहीँ इस फिल्म के लीक होने के बाद अब लोग इसे अपने मोबाइल पर देख और डाउनलोड कर रहे हैं Tamilrockers के साईट के मदद से. कुछ लोकप्रिय फिल्म्स जैसे की Good Newwz, Shimla Mirchi, Mardaani 2, De De Pyaar De, Jai Mummy Di, tanaji इत्यादि भी इसके सिकार हो चुके है.

Street dancer full movie download करने के लिए बहुत से तरीके हैं। परंतु आप सही तरीके का ही चयन करे क्युंकि यह आप को चोर बनाने से बचाती है। Online movie देखना एक चोरी हि है।

Street Dancer 3D full movie watch online

आप  Street Dancer 3D movie जो की Bollywood Dance movie है। उसे आप आज कल की Tecnology की मदद online भी देख सकते हो। Online movie देखने के लिए बहुत Sari legal websites है। जैसे Amazon Prime, etc. आप यहाँ से movie online सकते हो। 

Warning:- हमारी website celebrationishere किसी भी तरह की  illegal website को बड़वा नहीं देना चाहती। Online movie देखना एक चोरी है। जिसे कुछ illegal website आप तक पहुचाती है। अगर आपको Online movie देखना है तो आप  licence website जैसे Amazon Prime video और Netflix ,etc.  इन website मे जाकर आप safe movie देख सकते हो। 

Movie Street Dancer 3D
Artists Varun Dhawan। Shraddha Kapoor। Prabhu Deva । Nora fatehi
Director Remo D'Souza
Movie Type Entertainment । Drama। Action



TamilRockers, जैसे नाम से पता चलता है ये Tamil Movies को ही लीक करता होगा, लेकिन इसने उसके साथ साथ अब Bollywood, Hollywood, Tollywood के मूवीज को भी leak करना चालू कर दिया है. इतना ही नहीं अब तो TV serials, Series को भी ये piracy website नहीं छोड़ रहे हैं.
Download Movie

इससे पहले Tamilrockers ने दुसरे बहुत से Films को अपना शिकार बनाया था. वहीँ ये सभी Movie Producers के रास्ते का बड़ा काँटा बनकर उभरा है. वहीँ हम चाहते हैं की इन सभी Pirated Websites से दूर रहें और Legal Movies Sites से ही फिल्म डाउनलोड करें.

Thursday, 9 January 2020

जन्मदिन की शुभकामनाएँ। Happy birthday wishes in hindi। Happy birthday shayri


Birthday wishes in Hindi shayri। जन्मदिन की हर्दिक शुभकामनाएँ हिंदी में।




Happy birthday wishes in hindi
Birthday wishes


जन्मदिन की शुभकामनाएं हिंदी में आपके परिवार वालों के लिए मम्मी के लिए पापा के लिए फ्रेंड,पत्नी ,गर्लफ्रेंड व अन्य लोगों के लिए भी।
शायरियाँ ,कोटेस् हिंदी मे। 
                         और जन्मदिन एक ऐसा दिन होता है जो 1 साल में सिर्फ एक बार आता है और इस दिन आप किसी को भी अच्छी शायरियां या अच्छे कोट्स भेजकर उसे अत्यंत प्रसन्न कर सकते हैं जिससे उसका दिन और खास बन जाता है।

माँ के लिए जन्मदिन संदेश पिता के लिए जन्मदिन संदेश बेटे के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं
बेटी के जन्मदिन शुभकामनाएं
बहन के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं
भाई के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं पत्नी के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं पति के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं
गर्लफ्रेंड के लिए जन्मदिन की शुभकामनाएं
ब्यॉयफ्रेंड के लिए जन्मदिन की शुभकामनाएं बेस्ट फ्रेंड के लिए जन्मदिन संदेश
दोस्तों के लिए जन्मदिन संदेश




माँ के लिए जन्मदिन संदेश

Birthday mom
Happy birthday

1} आज, इस खूबसूरत दिन पर, मैं प्रार्थना करता हूं कि आपका कल खुशियों से भरा हो।  कोई भी कठिनाई आपको छू नहीं सकती।  सब दुःख मिट जायें।  जन्मदिन मुबारक हो माँ।  मुझे आपके पुत्र होने पर गर्व है।

Wishes hindi

2} इस शुभ दिन पर, मैं प्रार्थना करता हूँ कि आपके जीवन में खुशियों की मिठास भर जाए, आप जीवन भर केवल खुशियाँ ही पाएँ, कभी दुखी न हों।  बहुत प्यार करता हूँ, मेरी प्यारी माँ।

3} आपकी हर भेंट एक प्यारी कविता की तरह है, मेरे कान हर समय इसे सुनने के लिए उत्सुक रहते हैं।  आपकी दुआएं हमेशा मेरे साथ रहें।  जन्मदिन मुबारक हो मेरी प्यारी माँ।




4}  आप परवाह करते हैं, आप प्यार दिखाते हैं, कभी आप सिखाते हैं और कभी आप समझाते हैं।  कभी तुम मुझे बचाते हो, कभी तुम सहारा बन जाते हो।  आपने मुझे इस लायक बनाया कि मैं खुद पर गर्व महसूस करूं।
आने वाला साल आपके जीवन में खुशियां लेकर आए।  ऊपर वाला आपको लंबी उम्र दे।  लव यू मॉम, हैप्पी बर्थडे


 5} तुम मेरे लिए देवदूत हो, तुम ऊपर से उपहार हो।  साथ होने पर हर दुःख दूर होता है।  आप जहां भी हों, यह जन्मदिन खुशियों से भरा हो।  मां मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं

पिता के लिए जन्मदिन संदेश

Happy birthday

6} उपरोक्त दुनिया आपको उसी तरह प्यार से रोशन कर सकती है जिस तरह से आपने हमारे रास्तों पर प्यार की बौछार की है।  आने वाला साल आपको खुशियों से भर दे।  हैप्पी बर्थडे पापा।

  7} यदि इस दुनिया में सर्वश्रेष्ठ पिता के लिए कोई पुरस्कार होता, तो यह हर दिन आपके नाम पर होता।  मुझे इस खूबसूरत दुनिया को दिखाने और जीवन के हर मोड़ पर मेरा समर्थन करने के लिए धन्यवाद।  आपको जन्मदिन की बहुत बधाई।

  8} आप दुनिया के लिए एक उदाहरण हैं, एक अच्छे अभिभावक का हर गुण आप में है।  मैं कभी शब्दों में नहीं कह पाया लेकिन पापा, मैं भी आपके जैसा बनने का सपना देखता हूं।  जन्मदिन की शुभकामनाएं

 9} पिता, आप जैसे हैं वैसे ही रहें, आप मेरे महानायक हैं और आज मेरे जीवन का सबसे बड़ा दिन है क्योंकि आज मेरे पिता, मेरे पिता का जन्मदिन है।  हैप्पी बर्थडे पापा।

 10} इस दुनिया में, आप एकमात्र व्यक्ति हैं जिन्होंने मेरे हर फैसले पर, मेरे हर कदम पर भरोसा किया।  एक अच्छा पिता होने के लिए मैं आपका आभारी हूं।  जन्मदिन मुबारक पिताजी

बेटे के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं

Birthday boy

11} आपका जन्मदिन हर बार कुछ खूबसूरत यादें लेकर आता है।  जीवन में हमेशा इसी तरह मुस्कुराते रहो।  सफलता हर पल आपके कदमों में है।  आपके जन्मदिन पर यह मेरा आशीर्वाद है।

  12} मैं जीवन के हर मोड़ पर आपके साथ हूं।  किसी भी बिंदु पर अपने गंतव्य के लिए यात्रा करना बंद न करें।  यह सिर्फ मेरा आशीर्वाद है।  जन्मदिन मुबारक हो बेटे!

  13} आपकी अच्छाई से आप हमेशा हमारा मान बढ़ाते हैं।  हमारी दुआएं हर पल आपके साथ हैं।  जीवन के सफर में आपके सभी सपने पूरे हों, इस खास दिन पर मेरा आशीर्वाद है।

 14} आपके चेहरे की तरह, आपका दिल भी सुंदर है।  आप सभी के लिए चिंतित हैं।  ऊपर वाला आपकी दुनिया को खुशियों से भर दे।  जन्मदिन मुबारक हो बेटे।

  15} मैंने आपसे प्रार्थना में प्रार्थना की, मेरी एक मुस्कान आपको दुखी करती है।  मेरे छोटे राजकुमार इस दिन आपके लिए खुशियाँ लाएँ।  जन्मदिन मुबारक हो बेटे।

बेटी के जन्मदिन शुभकामनाएं

Birthday girl

16} आज का दिन मेरे लिए बहुत खास है, क्योंकि आज आपका जन्मदिन नहीं है, क्योंकि आज वह दिन है जब मैंने पहली बार अपनी परी को देखा।  मेरी राजकुमारी को जन्मदिन की बधाई।


17}  आपकी हर मनोकामना पूरी हो।  आप सफलता के बोर्ड पर सितारों की तरह चमकते हैं।  आपके हाथों में खुशियाँ बिखेर दें।  हम हर कदम पर आपके साथ नजर आएंगे।  जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं।

  18}आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी हों, कोई भी सपना अधूरा न रहे।  आपने दुनिया में हमारा मान बढ़ाया है, हमारी दुआएं हमेशा आपके साथ हैं।  हमें आप पर, मेरी राजकुमारी पर गर्व है।  जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं।

  19} दुनिया की हर खुशी आपके हाथ में है, सपनों की हर मंजिल आपके कदमों में है।  जिस दिन मेरी नन्ही परी इस धरती पर आई, यह खूबसूरत दिन मेरा आशीर्वाद है।

  20} जीवन का हर पल बेहद खास होता है, केवल एक विशेष व्यक्ति ही इसे खास तरीके से जी सकता है।  आपके जीवन का हर पल सबसे खास हो सकता है।  हमारी दुआएं हमेशा आपके साथ हैं।  आपको मेरी राजकुमारी को जन्मदिन की शुभकामनाएं।



यह भी पढि़ए



 * Top 99+weird new year shayri 2020


बहन के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं


21} कुछ मीठी यादें छोड़कर उन्होंने अपना बचपन छोड़ दिया।  आप ही थे जिन्होंने मेरे बचपन को सबसे खास बनाया।  वे दिन बीत गए लेकिन यादों के निशान हैं।  आपका आने वाला कल बहुत सुंदर हो, आपके जन्मदिन पर यह आपका आशीर्वाद हो।

  22} आप मेरी सबसे प्यारी बहन ही नहीं मेरी दोस्त भी हैं।  आपको जीवन में वह सब कुछ मिलता है जो आप चाहते हैं।  मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे आप जैसी बहन मिली।  हैप्पी बर्थडे मेरी सबसे प्यारी बहन।

  23} आपने मेरी मुश्किलों में हर पल मेरा साथ दिया, मेरे बचपन की हर याद में आपका जिक्र है, सालों के इस सफर में आप मेरे सबसे अच्छे दोस्त हैं।  मेरे अंदर जो विश्वास है, उसका कारण भी आप हैं।  काश हमने साथ में बिताया और काश हम फिर से वापस आ सकते।  आपको जन्मदिन मुबारक हो।

  24} आपके जीवन का हर पल खुशियों से भरा हो, जहाँ आपसे कोई दुःख आपके पास न आये।  इच्छाओं की हर मंजिल अपने पैरों को चूम सकता है।  जन्मदिन मुबारक हो, हमेशा खुश रहो।

  25} आप मेरे समर्थन, मेरी ताकत, मेरे दोस्त और मार्गदर्शक भी हैं।  आपसे बेहतर इस दुनिया में कोई नहीं है।  केवल आशीर्वाद यह है कि ऊपरवाला आप पर अपना सारा प्यार लुटाए।  आपके साथ शुभकामनाएँ मेरी प्यारी बहन को जन्मदिन की शुभकामनाएँ दें।

भाई के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं

26} आपने मुझे जो जीवन का पाठ पढ़ाया, वह किताबों में नहीं था।  माँ और पिता के बाद आप ही थे जिन्होंने हर यात्रा पर मेरा हाथ थामा।  मेरे जीवन में आप जैसा कोई नहीं है।  हो सकता है कि मेरी प्रार्थना आपके जन्मदिन पर हो, आपका सारा जीवन।

  27}आपके जन्मदिन पर हर बार, उदासीन की यादें प्रकाश में आती हैं।  पलकों के मूल में यादों की आग जगमगाने लगती है।  आओ, अपने जन्मदिन पर फिर से यादों के इस दीप को जलाएं।  जन्मदिन मुबारक हो भाई।

  28}तुम भी मेरे दोस्त हो, तुम भी मेरे सहारे हो, तुम भी जिंदगी के इस सफर के साथी हो।  आप मेरे लिए हर पल चिंतित रहते हैं।  मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे तुम मेरे भाई की तरह मिले।  सभी को जन्मदिन की शुभकामनाएं।

  29} आप अपने जीवन के हर मोड़ पर मेरे साथ रहे हैं, मैं आपका आभार कैसे चुकाऊंगा।  मैं जीवन के उस पल का इंतजार कर रहा हूं जब किसी दिन मैं आपके एहसान का कर्ज चुका सकूं।  हैप्पी बर्थडे टू यू भाई।

  30} आपको मेरे जीवन की हर मुश्किल का समर्थन है, मुझे पूरी जिंदगी जिंदा रखने के लिए।  जैसे घर में खंभे का सहारा होता है, वैसे ही तुम मेरे लिए हो।  मैं अपने दिल से प्रार्थना करता हूं, भाई, यह जन्मदिन आपके लिए खुशियों की नई सुबह लेकर आए।

पत्नी के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं

Wishes birthday

31} मेरा दिल आपको जन्मदिन की शुभकामनाएं देता है क्योंकि हर रोज मेरा दिल आपके लिए धड़कता है।  जनम दिन अच्छा रहे जानेमन।


 32} मेरे दोस्त, मेरा प्यार, तुम मेरी आत्मा हो।  तुम मेरी अर्धांगिनी हो, तुम मेरी दुनिया हो।  आप मेरे सभी सुख और दुःख का हिस्सा हैं।  आइए इस रिश्ते को एक साथ, अपने जन्मदिन पर मनाएं।  जन्मदिन मुबारक हो प्रिय

  33} किस्मत कड़वी थी, लेकिन आप मेरे साथ थे, जब सभी ने मुझे अस्वीकार कर दिया, तो आपने मुझे गले लगाया।  आप मेरे साथ उस पल थे जब मैं अकेला और उदास था।  आप मेरे प्यार हैं मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे एक ऐसी पत्नी मिली है जो आपसे प्यार करती है।  आपको बहुत सुंदर दिन की शुभकामनाएं।

34}  आइए आज आपका जन्मदिन कुछ इस तरह से मनाएं कि हमारा प्यार और खुशी जन्मों के दरवाजे में बंध जाए।  हैप्पी बर्थडे माय डॉल।

 35} आज जब आप अपने जन्मदिन के केक की मोमबत्तियाँ बुझाते हैं, तो मैं ऊपरवाले को धन्यवाद दूंगा जिसने मुझे इतना प्यारा, प्यारा, देखभाल करने वाला और निर्दोष साथी दिया।  जन्मदिनकी शुभकामनाये मेरे प्रेम को।

पति के लिए जन्मदिन शुभकामनाएं

36} जन्मदिन साल में केवल एक बार आता है लेकिन आप जैसा व्यक्ति हर दिन सैकड़ों लोगों के लिए जीवन को खुशहाल बनाता है।  मुझे खुशी है कि ऊपरवाले ने आपको इस जगह भेजा।  जन्मदिन मुबारक हो प्रिय!

  37} तुम्हारा जन्मदिन आया है, बाहर लाया है।  यह दिन नृत्य के बारे में है, यह दिन जश्न मनाने के लिए है।  आपको जन्मदिन की बहुत बधाई

  38} हो सकता है कि ये जन्मदिन खुशियों की बारिश लाएँ, सबसे बढ़कर, खुशियाँ आप पर बरसें।  यह जन्मदिन जीवन के सभी दुखों को दूर कर सकता है।  जन्मदिन की शुभकामनाएं।

  39} जीवन का हर पल प्यार से भरा हो।  हमेशा एक जोड़े के बारे में चिंता करें, आप।  इन प्रार्थनाओं के साथ आपको जन्मदिन की शुभकामनाएं।

  40}हो सकता है कि आपके सपने सफलता की आशा में पूरे हों, चाहे आप कहीं भी रहें, आप मुझे हर पल अपने साथ पाएंगे।  जन्मदिन मुबारक।

गर्लफ्रेंड के लिए जन्मदिन की शुभकामनाएं

41} आपके जन्मदिन के इस दिन, मैं आपको याद दिलाना चाहता हूं कि आप मेरे लिए कितने खास हैं।  मैं जहां भी रहूंगा, किसी भी मामले में मैं तुम्हें नहीं भूलूंगा।  तुम मेरे दिल में रहते हो जहाँ भी जाओ मेरे साथ रहो।  लव यू सेक्सी


42} मधुमक्खियां हमेशा जाती हैं और उन्हें शहद के साथ गले लगाती हैं।  यदि आज मधुमक्खियों ने आप पर हमला किया, तो कसूर उनका नहीं होगा क्योंकि आप बहुत प्यारे लगते हैं।  लव यू स्वीट हार्ट, हैप्पी बर्थडे।

 43} प्रिय परी, इस भूमि पर कदम रखने के लिए धन्यवाद।  मैं तुम्हें खुद से ज्यादा प्यार करता हूं और किसी भी कीमत पर तुम्हें खोना नहीं चाहता।  जन्मदिन मुबारक हो सेक्सी!

  44} दिल दुनिया की हर खुशी को आपके पैरों पर लाना चाहता है।  आपके सभी सपने पूरे हों।  आरजू कहती है कि जब मैं अपनी परी को देखती हूं, तो मुझे खुद को जन्मदिन की पोशाक में देखना चाहिए।  जन्मदिन की शुभकामनाएं।

  45} आपका दिल जितना खूबसूरत है उससे कहीं ज्यादा खूबसूरत है।  मैं आपसे इस दिन को विशेष बनाने का वादा करता हूं, क्योंकि आप मेरे लिए हैं।  जन्मदिनकी शुभकामनाये मेरे प्रेम को

ब्यॉयफ्रेंड के लिए जन्मदिन की शुभकामनाएं


46} प्यार का अनमोल तोहफा जो आपने मुझे दिया है वह किसी भी उपहार से चुकाया नहीं जा सकता।  मैं बहुत खुशनसीब हूँ कि तुम्हारी गर्लफ्रेंड बनी।  जन्मदिन मुबारक हों बेबी।

  47} अगर मैं आपसे सितारों को जमीन पर लाने के लिए कहूं, तो मुझे यकीन है कि आप मेरे कदमों के नीचे आकाश रखेंगे।  आप अलग हैं, इसलिए मुझे आप पर भरोसा है।  मेरे चैंपियन को जन्मदिन की शुभकामनाएं!

 48} आपने मेरे जीवन को कई यादगार पल दिए हैं, उन यादों की रोशनी मेरे दिमाग में रोशन होगी।  मैं आपको अपने जन्मदिन पर ढेर सारी शुभकामनाएं भेज रहा हूं।  हैप्पी बर्थडे उसे जिसका प्यार मुझे प्रिय है।


  49} आपका जन्मदिन मुझे आप पर अपना प्यार बरसाने का एक और खूबसूरत मौका देता है।  बहुत सी चीजों के साथ, मैं आपके लिए एक हार बन जाऊंगा।  आई लव यू बेबी हैप्पी बर्थडे।

 50} तुमने मेरी दुनिया बसा दी, मैं तुम्हारे बिना जीने की कल्पना भी नहीं कर सकता।  मेरा संदेश सिर्फ आपको यह याद दिलाने के लिए है कि आप मेरे लिए कितने खास हैं।  मैं प्रार्थना करता हूं कि ऊपरवाला आपकी सभी इच्छाओं को पूरा करे।  जन्मदिन की शुभकामनाएं।

बेस्ट फ्रेंड के लिए जन्मदिन संदेश

51} मैं प्रार्थना करता हूं कि ऊपरवाला आपके जीवन को खुशियों से भर दे।  आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी हों।  जन्मदिन मुबारक हो प्रिय, एक पार्टी देना मत भूलना।

  52} मेरे पास यह कहने के लिए कोई शब्द नहीं है कि आप जैसे दोस्त को पाकर मैं कितना खुश हूं।  आपका जन्मदिन आपके लिए दुनिया की सारी खुशियां लेकर आए।

  53} आज सिर्फ आपका जन्मदिन ही नहीं बल्कि हमारी दोस्ती का जश्न मनाने का भी दिन है।  मुझे खुशी है कि मैं आप जैसे व्यक्ति को अपना सबसे अच्छा दोस्त कह सकता हूं।  जन्मदिन मुबारक हो प्रिय!

 54} दुनिया का हर तोहफा आपकी दोस्ती के तोहफे के सामने बेकार है।  मेरी सबसे अच्छी दोस्त होने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।  ऊपर वाला आपको दुनिया की हर खुशी दे।  जन्मदिन की शुभकामनाएं।

55}  आपके बिना जीवन इतना सुंदर नहीं हो सकता है, 365 दिन प्यार, उत्साह, उत्साह, दोस्ती और मस्ती से भरे हो सकते हैं।  हम हमेशा सबसे अच्छे दोस्त बने रहें।  जन्मदिन की शुभकामनाएं।

56}  इस जन्मदिन पर मुझे आपके साथ बिताए खूबसूरत पल याद हैं।  आप मेरे सबसे प्यारे दोस्त हैं आने वाला साल खुशियों और आनंद से भरा हो, यही मेरी कामना है।  मेरे सबसे प्यारे दोस्त को जन्मदिन की बधाई।

दोस्तों के लिए जन्मदिन संदेश

57} मेरे पास एक खजाना है जो दुनिया की सारी दौलत को पार करता है, तुम मेरे दोस्त हो।  मैं आपको तेह-ए-दिल के साथ जन्मदिन की शुभकामनाएं देता हूं।

  58} आपका समय कितना भी बुरा क्यों न हो, आप मुझे हर बार अपने साथ पाएंगे।  हमारी दोस्ती हमेशा इसी तरह बरकरार रहेगी।  जन्मदिन मुबारक।

59}  आप जैसे सीधे और सच्चे दोस्त बहुत मुश्किल से मिलते हैं।  ऐसा बहुत ही कम होता है कि जो कोई मुश्किल में भी साथ दे।  जन्मदिन मुबारक हो मेरे दोस्त।

 60}  आप जैसे दोस्त किस्मत वालों को ही मिलते हैं जैसे हीरे।  आपकी दोस्ती पाकर मैं बहुत खुश हूं।  जन्मदिन की शुभकामनाएं

  61}आपके जन्मदिन की मौसम रिपोर्ट कहती है कि आज आसमान पर बादल नहीं होंगे, हवा में ताजगी होगी और आपके जन्मदिन के केक की खुशबू सुंदरता का एहसास देगी।  जन्मदिन मुबारक हो मेरे दोस्त।



BY CELEBRATIONISHERE


Wednesday, 8 January 2020

कबीर दास जी के 108 प्रसिद्ध दोहे हिंदी अर्थ सहित। Kabir daas ji ke dohe

कबीर दास जी के 108 दोहे हिंदी अर्थ सहित


संत कबीर दास के दोहे गागर में सागर के समान हैं। उनके गहरे अर्थ को समझने से, अगर कोई उन्हें अपने जीवन में लाता है, तो उसे निश्चित रूप से भगवान के साथ-साथ मन की शांति भी मिलेगी। 

Kabir ke  dohe, Kabir ke  dohe saar sahit
Kabir daas ji

परिचय।

नाम:- कबीर दास।
जन्म:- ठीक से ज्ञात नहीं  (1398 या  1440) लहरतारा
मृत्यु:- ठीक से ज्ञात नहीं  (1448 या 1518) मगहर
व्यवसाय:- कवि, भक्त, सूत कातकर कपड़ा बनाना
राष्ट्रीयता:- भारतीय

कबीर दास जी के दोहे


-1-

बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय,
जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय।

अर्थ : जब मैं इस संसार में बुराई खोजने चला तो मुझे कोई बुरा न मिला. जब मैंने अपने मन में झाँक कर देखा तो पाया कि मुझसे बुरा कोई नहीं है.
-2-

पोथी पढ़ि पढ़ि जग मुआ, पंडित भया न कोय,
ढाई आखर प्रेम का, पढ़े सो पंडित होय।

अर्थ : बड़ी बड़ी पुस्तकें पढ़ कर संसार में कितने ही लोग मृत्यु के द्वार पहुँच गए, पर सभी विद्वान न हो सके. कबीर मानते हैं कि यदि कोई प्रेम या प्यार के केवल ढाई अक्षर ही अच्छी तरह पढ़ ले, अर्थात प्यार का वास्तविक रूप पहचान ले तो वही सच्चा ज्ञानी होगा.
-3-
साधु ऐसा चाहिए, जैसा सूप सुभाय,
सार-सार को गहि रहै, थोथा देई उड़ाय।

अर्थ : इस संसार में ऐसे सज्जनों की जरूरत है जैसे अनाज साफ़ करने वाला सूप होता है. जो सार्थक को बचा लेंगे और निरर्थक को उड़ा देंगे.
-4-

तिनका कबहुँ ना निन्दिये, जो पाँवन तर होय,
कबहुँ उड़ी आँखिन पड़े, तो पीर घनेरी होय।

अर्थ : कबीर कहते हैं कि एक छोटे से तिनके की भी कभी निंदा न करो जो तुम्हारे पांवों के नीचे दब जाता है. यदि कभी वह तिनका उड़कर आँख में आ गिरे तो कितनी गहरी पीड़ा होती है !

-5-
धीरे-धीरे रे मना, धीरे सब कुछ होय,
माली सींचे सौ घड़ा, ॠतु आए फल होय।

अर्थ : मन में धीरज रखने से सब कुछ होता है. अगर कोई माली किसी पेड़ को सौ घड़े पानी से सींचने लगे तब भी फल तो ऋतु  आने पर ही लगेगा !
-6-
माला फेरत जुग भया, फिरा न मन का फेर,
कर का मनका डार दे, मन का मनका फेर।

अर्थ : कोई व्यक्ति लम्बे समय तक हाथ में लेकर मोती की माला तो घुमाता है, पर उसके मन का भाव नहीं बदलता, उसके मन की हलचल शांत नहीं होती. कबीर की ऐसे व्यक्ति को सलाह है कि हाथ की इस माला को फेरना छोड़ कर मन के मोतियों को बदलो या  फेरो.
-7-
जाति न पूछो साधु की, पूछ लीजिये ज्ञान,
मोल करो तरवार का, पड़ा रहन दो म्यान।

अर्थ : सज्जन की जाति न पूछ कर उसके ज्ञान को समझना चाहिए. तलवार का मूल्य होता है न कि उसकी मयान का – उसे ढकने वाले खोल का.
-8-

दोस पराए देखि करि, चला हसन्त हसन्त,
अपने याद न आवई, जिनका आदि न अंत।

अर्थ : यह मनुष्य का स्वभाव है कि जब वह  दूसरों के दोष देख कर हंसता है, तब उसे अपने दोष याद नहीं आते जिनका न आदि है न अंत.
-9-

जिन खोजा तिन पाइया, गहरे पानी पैठ,
मैं बपुरा बूडन डरा, रहा किनारे बैठ।

अर्थ : जो प्रयत्न करते हैं, वे कुछ न कुछ वैसे ही पा ही लेते  हैं जैसे कोई मेहनत करने वाला गोताखोर गहरे पानी में जाता है और कुछ ले कर आता है. लेकिन कुछ बेचारे लोग ऐसे भी होते हैं जो डूबने के भय से किनारे पर ही बैठे रह जाते हैं और कुछ नहीं पाते.

कबीर दास जी के दोहे

-10-

बोली एक अनमोल है, जो कोई बोलै जानि,
हिये तराजू तौलि के, तब मुख बाहर आनि।

अर्थ : यदि कोई सही तरीके से बोलना जानता है तो उसे पता है कि वाणी एक अमूल्य रत्न है। इसलिए वह ह्रदय के तराजू में तोलकर ही उसे मुंह से बाहर आने देता है.


-11-

अति का भला न बोलना, अति की भली न चूप,
अति का भला न बरसना, अति की भली न धूप।

अर्थ : न तो अधिक बोलना अच्छा है, न ही जरूरत से ज्यादा चुप रहना ही ठीक है. जैसे बहुत अधिक वर्षा भी अच्छी नहीं और बहुत अधिक धूप भी अच्छी नहीं है.

-12-

निंदक नियरे राखिए, ऑंगन कुटी छवाय,
बिन पानी, साबुन बिना, निर्मल करे सुभाय।

अर्थ : जो हमारी निंदा करता है, उसे अपने अधिकाधिक पास ही रखना चाहिए। वह तो बिना साबुन और पानी के हमारी कमियां बता कर हमारे स्वभाव को साफ़ करता है.


-13-
दुर्लभ मानुष जन्म है, देह न बारम्बार,
तरुवर ज्यों पत्ता झड़े, बहुरि न लागे डार।

अर्थ : इस संसार में मनुष्य का जन्म मुश्किल से मिलता है. यह मानव शरीर उसी तरह बार-बार नहीं मिलता जैसे वृक्ष से पत्ता  झड़ जाए तो दोबारा डाल पर नहीं
लगता.
Kabir ke  dohe, Kabir ke  dohe saar sahit

-14-
कबीरा खड़ा बाज़ार में, मांगे सबकी खैर,
ना काहू से दोस्ती,न काहू से बैर.

अर्थ : इस संसार में आकर कबीर अपने जीवन में बस यही चाहते हैं कि सबका भला हो और संसार में यदि किसी से दोस्ती नहीं तो दुश्मनी भी न हो !
-15-
हिन्दू कहें मोहि राम पियारा, तुर्क कहें रहमाना,
आपस में दोउ लड़ी-लड़ी  मुए, मरम न कोउ जाना।

अर्थ : कबीर कहते हैं कि हिन्दू राम के भक्त हैं और तुर्क (मुस्लिम) को रहमान प्यारा है. इसी बात पर दोनों लड़-लड़ कर मौत के मुंह में जा पहुंचे, तब भी दोनों में से कोई सच को न जान पाया।

-16-

कहत सुनत सब दिन गए, उरझि न सुरझ्या मन.                                                                   कही कबीर चेत्या नहीं, अजहूँ सो पहला दिन.

अर्थ : कहते सुनते सब दिन निकल गए, पर यह मन उलझ कर न सुलझ पाया. कबीर कहते हैं कि अब भी यह मन होश में नहीं आता. आज भी इसकी अवस्था पहले दिन के समान ही है.

-17-

कबीर लहरि समंद की, मोती बिखरे आई.                                                                         बगुला भेद न जानई, हंसा चुनी-चुनी खाई.

अर्थ :कबीर कहते हैं कि समुद्र की लहर में मोती आकर बिखर गए. बगुला उनका भेद नहीं जानता, परन्तु हंस उन्हें चुन-चुन कर खा रहा है. इसका अर्थ यह है कि किसी भी वस्तु का महत्व जानकार ही जानता है।

-18-

जब गुण को गाहक मिले, तब गुण लाख बिकाई.                                                                   जब गुण को गाहक नहीं, तब कौड़ी बदले जाई.

अर्थ : कबीर कहते हैं कि जब गुण को परखने वाला गाहक मिल जाता है तो  गुण की कीमत होती है. पर जब ऐसा गाहक नहीं मिलता, तब गुण कौड़ी के भाव चला जाता है.

-19-

कबीर कहा गरबियो, काल गहे कर केस.                                                                           ना जाने कहाँ मारिसी, कै घर कै परदेस.

अर्थ : कबीर कहते हैं कि हे मानव ! तू क्या गर्व करता है? काल अपने हाथों में तेरे केश पकड़े हुए है. मालूम नहीं, वह घर या परदेश में, कहाँ पर तुझे मार डाले.

इसे भी पढ़े :- चटपटी पहेलिया

कबीर दास जी के दोहे

-20-

पानी केरा बुदबुदा, अस मानुस की जात.                                                                           एक दिना छिप जाएगा,ज्यों तारा परभात.

अर्थ : कबीर का कथन है कि जैसे पानी के बुलबुले, इसी प्रकार मनुष्य का शरीर क्षणभंगुर है।जैसे प्रभात होते ही तारे छिप जाते हैं, वैसे ही ये देह भी एक दिन नष्ट हो जाएगी.
Kabir ke  dohe, Kabir ke  dohe saar sahit

-21-

हाड़ जलै ज्यूं लाकड़ी, केस जलै ज्यूं घास.                                                                         सब तन जलता देखि करि, भया कबीर उदास.

अर्थ : यह नश्वर मानव देह अंत समय में लकड़ी की तरह जलती है और केश घास की तरह जल उठते हैं. सम्पूर्ण शरीर को इस तरह जलता देख, इस अंत पर कबीर का मन उदासी से भर जाता है.

-22-

जो उग्या सो अन्तबै, फूल्या सो कुमलाहीं।                                                                        
जो चिनिया सो ढही पड़े, जो आया सो जाहीं।

अर्थ : इस संसार का नियम यही है कि जो उदय हुआ है,वह अस्त होगा। जो विकसित हुआ है वह मुरझा जाएगा. जो चिना गया है वह गिर पड़ेगा और जो आया है वह जाएगा.

-23-

झूठे सुख को सुख कहे, मानत है मन मोद.                                                                        खलक चबैना काल का, कुछ मुंह में कुछ गोद.

अर्थ : कबीर कहते हैं कि अरे जीव ! तू झूठे सुख को सुख कहता है और मन में प्रसन्न होता है? देख यह सारा संसार मृत्यु के लिए उस भोजन के समान है, जो कुछ तो उसके मुंह में है और कुछ गोद में खाने के लिए रखा है.

-24-

ऐसा कोई ना मिले, हमको दे उपदेस.                                                                             भौ सागर में डूबता, कर गहि काढै केस.

अर्थ : कबीर संसारी जनों के लिए दुखित होते हुए कहते हैं कि इन्हें कोई ऐसा पथप्रदर्शक न  मिला जो उपदेश देता और संसार सागर में डूबते हुए इन प्राणियों को अपने हाथों से केश पकड़ कर निकाल लेता.

-25-

संत ना छाडै संतई, जो कोटिक मिले असंत                                                                        चन्दन भुवंगा बैठिया,  तऊ सीतलता न तजंत।

अर्थ : सज्जन को चाहे करोड़ों दुष्ट पुरुष मिलें फिर भी वह अपने भले स्वभाव को नहीं छोड़ता. चन्दन के पेड़ से सांप लिपटे रहते हैं, पर वह अपनी शीतलता नहीं छोड़ता.


-26-


कबीर तन पंछी भया, जहां मन तहां उडी जाइ.                                                                     जो जैसी संगती कर, सो तैसा ही फल पाइ.

अर्थ :कबीर कहते हैं कि संसारी व्यक्ति का शरीर पक्षी बन गया है और जहां उसका मन होता है, शरीर उड़कर वहीं पहुँच जाता है। सच है कि जो जैसा साथ करता है, वह वैसा ही फल पाता है.

-27-

तन को जोगी सब करें, मन को बिरला कोई.                                                                       सब सिद्धि सहजे पाइए, जे मन जोगी होइ.

अर्थ : शरीर में भगवे वस्त्र धारण करना सरल है, पर मन को योगी बनाना बिरले ही व्यक्तियों का काम है य़दि मन योगी हो जाए तो सारी सिद्धियाँ सहज ही प्राप्त हो जाती हैं.

-28-

कबीर सो धन संचे, जो आगे को होय.                                                                            सीस चढ़ाए पोटली, ले जात न देख्यो कोय.

अर्थ : कबीर कहते हैं कि उस धन को इकट्ठा करो जो भविष्य में काम आए. सर पर धन की गठरी बाँध कर ले जाते तो किसी को नहीं देखा.
-29-

माया मुई न मन मुआ, मरी मरी गया सरीर.                                                                      आसा त्रिसना न मुई, यों कही गए कबीर .

अर्थ : कबीर कहते हैं कि संसार में रहते हुए न माया मरती है न मन. शरीर न जाने कितनी बार मर चुका पर मनुष्य की आशा और तृष्णा कभी नहीं मरती, कबीर ऐसा कई बार कह चुके हैं.

कबीर दास जी के दोहे

-30-


मन हीं मनोरथ छांड़ी दे, तेरा किया न होई.                                                                       पानी में घिव निकसे, तो रूखा खाए न कोई.

अर्थ : मनुष्य मात्र को समझाते हुए कबीर कहते हैं कि मन की इच्छाएं छोड़ दो , उन्हें तुम अपने बूते पर पूर्ण नहीं कर सकते। यदि पानी से घी निकल आए, तो रूखी रोटी कोई न खाएगा.
-31-
दुःख में सुमिरन सब करे सुख में करै न कोय।
जो सुख में सुमिरन करे दुःख काहे को होय ॥
अर्थ : कबीर दास जी कहते हैं कि दुःख के समय सभी भगवान् को याद करते हैं पर सुख में कोई नहीं करता। यदि सुख में भी भगवान् को याद किया जाए तो दुःख हो ही क्यों !
-32-
साईं इतना दीजिये, जा मे कुटुम समाय ।
मैं भी भूखा न रहूँ, साधु ना भूखा जाय ॥

अर्थ : कबीर दस जी कहते हैं कि परमात्मा तुम मुझे इतना दो कि जिसमे बस मेरा गुजरा चल जाये , मैं खुद भी अपना पेट पाल सकूँ और आने वाले मेहमानो को भी भोजन करा सकूँ।
-33-

काल करे सो आज कर, आज करे सो अब ।
पल में प्रलय होएगी,बहुरि करेगा कब ॥

अर्थ : कबीर दास जी समय की महत्ता बताते हुए कहते हैं कि जो कल करना है उसे आज करो और और जो आज करना है उसे अभी करो , कुछ ही समय में जीवन ख़त्म हो जायेगा फिर तुम क्या कर पाओगे !!

-34-

लूट सके तो लूट ले,राम नाम की लूट ।
पाछे फिर पछ्ताओगे,प्राण जाहि जब छूट ॥

अर्थ : कबीर दस जी कहते हैं कि अभी राम नाम की लूट मची है , अभी तुम भगवान् का जितना नाम लेना चाहो ले लो नहीं तो समय निकल जाने पर, अर्थात मर जाने के बाद पछताओगे कि मैंने तब राम भगवान् की पूजा क्यों नहीं की ।

-35-
माँगन मरण समान है, मति माँगो कोई भीख ।
माँगन ते मारना भला, यह सतगुरु की सीख ॥

अर्थ : माँगना मरने के बराबर है ,इसलिए किसी से भीख मत मांगो . सतगुरु कहते हैं कि मांगने से मर जाना बेहतर है , अर्थात पुरुषार्थ से स्वयं चीजों को प्राप्त करो , उसे किसी से मांगो मत।
-36-

आछे दिन पाछे गए, हरि से किया न हेत ।
अब पछताए होत क्या, चिड़िया चुग गयी खेत ॥

अर्थ : सुख के समय में भगवान् का स्मरण नहीं किया, तो अब पछताने का क्या फ़ायदा। जब खेत पर ध्यान देना चाहिए था, तब तो दिया नहीं, अब अगर चिड़िया सारे बीज खा चुकी हैं, तो खेद से क्या होगा।

-37-
आपा तजे हरि भजे, नख सिख तजे विकार ।
सब जीवन से निर्भैर रहे, साधू मता है सार ॥

अर्थ : जो व्यक्ति अपने अहम् को छोड़कर, भगवान् कि उपासना करता है, अपने दोषों को त्याग देता है, और किसी जीव-जंतु से बैर नहीं रखता, वह व्यक्ति साधू के सामान और बुद्धिमान होता है।
-38-
आवत गारी एक है, उलटन होय अनेक ।
कह कबीर नहिं उलटिये, वही एक की एक ॥

अर्थ : अगर गाली के जवाब में गाली दी जाए, तो गालियों की संख्या एक से बढ़कर अनेक हो जाती है। कबीर कहते हैं कि यदि गाली को पलटा न जाय, गाली का जवाब गाली से न दिया जाय, तो वह गाली एक ही रहेगी ।
-39-

एसी वाणी बोलिए, मन का आपा खोय ।
औरन को शीतल करे, आपहु शीतल होय ॥

अर्थ : अगर अपने भाषा से अहं को हटा दिया जाए, तो दूसरों के साथ खुद को भी शान्ति मिलती है।
इसे भी पढ़े :- best moral stories

कबीर दास जी के दोहे

-40-

बाहर  क्या  दिखलाये , अंतर  जपिए  राम  |
कहा  काज  संसार  से , तुझे  धानी  से  काम  ||

अर्थ : बाहरी दिखावे कि जगह, मन ही मन में राम का नाम जपना चाहिए। संसार कि चिंता छोड़कर, संसार चलाने वाले पर ध्यान देना चाहिए।

-41-
बड़ा हुआ तो क्या हुआ जैसे पेड़ खजूर ।
पंथी को छाया नही फल लागे अति दूर ॥

अर्थ : खजूर का पेड़ न तो राही को छाया देता है, और न ही उसका फल आसानी से पाया जा सकता है। इसी तरह, उस शक्ति का कोई महत्व नहीं है, जो दूसरों के काम नहीं आ सकती।


-42-
भगती  बिगाड़ी  कामिया , इन्द्री  करे  सवादी  |
हीरा  खोया  हाथ  थाई , जनम  गवाया  बाड़ी  ||

अर्थ : इच्छाओं और आकाँक्षाओं में डूबे लोगों ने भक्ति को बिगाड़ कर केवल इन्द्रियों की संतुष्टि को लक्ष्य मान लिया है। इन लोगों ने इस मनुष्य जीवन का दुरूपयोग किया है, जैसे कोई हीरा खो दे।

-43-
बूँद पड़ी जो समुंदर में, जानत है सब कोय ।
समुंदर समाना बूँद में, बूझै बिरला कोय ॥

अर्थ : एक बूँद का सागर में समाना - यह समझना आसान है, लेकिन सागर का बूँद में समाना - इसकी कल्पना करना बहुत कठिन है। इसी तरह, सिर्फ भक्त भगवान् में लीन नहीं होते, कभी-कभी भगवान् भी भक्त में समा सकते हैं। 

-44-
चली जो पुतली लौन की, थाह सिंधु का लेन ।
आपहू गली पानी भई, उलटी काहे को बैन ॥

अर्थ : जब नमक सागर की गहराई मापने गया, तो खुद ही उस खारे पानी मे मिल गया। इस उदाहरण से कबीर भगवान् की विशालता को दर्शाते हैं। जब कोई सच्ची आस्था से भगवान् खोजता है, तो वह खुद ही उसमे समा जाता है।
-45-
चिड़िया चोंच भरि ले गई, घट्यो न नदी को नीर ।
दान दिये धन ना घटे, कहि गये दास कबीर ॥

अर्थ : जिस तरह चिड़िया के चोंच भर पानी ले जाने से नदी के जल में कोई कमी नहीं आती, उसी तरह जरूरतमंद को दान देने से किसी के धन में कोई कमी नहीं आती ।

-46-
चिंता ऐसी डाकिनी, काट कलेजा खाए ।
वैद बेचारा क्या करे, कहा तक दवा लगाए ॥

अर्थ : चिंता एक ऐसी चोर है जो सेहत चुरा लेती है। चिंता और व्याकुलता से पीड़ित व्यक्ति का कोई इलाज नहीं कर सकता।

-47-
दया  भाव  ह्रदय  नहीं , ज्ञान  थके  बेहद  |
ते  नर  नरक  ही  जायेंगे , सुनी  सुनी  साखी  शब्द  ||

अर्थ : कुछ लोगों में न दया होती है और न हमदर्दी, मगर वे दूसरों को उपदेश देने में माहिर होते हैं। ऐसे व्यक्ति, और उनका निरर्थक ज्ञान नर्क को प्राप्त होता है।

-48-
दुःख में सुमिरन सब करें सुख में करै न कोय ।
जो सुख में सुमिरन करे तो दुःख काहे होय ॥

अर्थ : दुःख में परमात्मा को  सभी याद करते हैं,  परन्तु सुख में कोई नहीं। यदि सुख में भी परमात्मा को  याद रखते, तो दुःख होता ही नहीं।

-49-
गुरु गोविंद दोनों खड़े, काके लागूं पाँय ।
बलिहारी गुरु आपनो, गोविंद दियो मिलाय ॥

अर्थ : यदि गुरु और ईश्वर, दोनों साथ में खड़े हों, तो किसे पहले प्रणाम करना चाहिए? कबीर कहते हैं, गुरु का स्थान ईश्वर से भी ऊपर है, क्योंकि गुरु की शिक्षा के कारण ही भगवान् के दर्शन होते हैं

कबीर दास जी के दोहे

-50-
ज्ञानी मूल गँवाईया, आप भये करता ।
ताते संसारी भला, जो सदा रहे डरता ॥

अर्थ : जो विद्वान अहंकार में पड़कर खुद को ही सर्वोच्च मानता है, वह कहीं का नहीं रहता। उससे तो वह संसारी आदमी बेहतर है, जिसके मन में भगवान् का दर तो है।

-51-
हरि रस पीया जानिये, कबहू न जाए खुमार ।
मैमता घूमत फिरे, नाही तन की सार ॥

अर्थ : जिस व्यक्ति ने परमात्मा के अमृत को चख लिया हो, वह सारा समय उसी नशे में मस्त रहता है। उसे न अपने शरीर कि, न ही रूप और भेष कि चिंता रहती है।


-52-
जबही नाम हिरदे घरा, भया पाप का नाश ।
मानो चिंगरी आग की, परी पुरानी घास ॥

अर्थ : शुद्ध हृदय के साथ भगवान् को याद करने से सारे पाप ऐसे नष्ट हो जाते हैं, जैसे कि सूखी घास पर आग की चिंगारी पड़ी हो।
-53-
जग  में  बैरी  कोई  नहीं , जो  मन  शीतल  होय  |
यह  आपा  तो  डाल  दे , दया  करे  सब  कोए  ||

अर्थ : आपके मन में यदि शीतलता है, अर्थात दया और सहानुभूति है, तो संसार में आपकी किसी से शत्रुता नहीं हो सकती। इसलिए अपने अहंकार को निकाल बाहर करें, और आप अपने प्रति दूसरों में भी समवेदना पाएंगे।

-54-

जहाँ दया तहाँ धर्म है,जहाँ लोभ तहाँ पाप ।
जहाँ क्रोध तहाँ पाप है, जहाँ क्षमा तहाँ आप ॥

अर्थ : जहाँ दया-भाव है, वहाँ धर्म-व्यवहार होता है। जहाँ लालच और क्रोध है वहाँ पाप बसता है। जहाँ क्षमा और सहानुभूति होती है, वहाँ भगवान् रहते हैं।

-55-

जहाँ न जाको गुन लहै, तहाँ न ताको ठाँव ।
धोबी बसके क्या करे, दीगम्बर के गाँव ॥

अर्थ : जहाँ पर आपकी योग्यता और गुणों का प्रयोग नहीं होता, वहाँ आपका रहना बेकार है। उदाहरण के लिए, ऐसी जगह धोबी का क्या काम, जहाँ पर लोगों के पास पहनने को कपड़े नहीं हैं।

-56-
जैसा भोजन खाइये , तैसा ही मन होय ।
जैसा पानी पीजिये, तैसी वाणी होय ॥

अर्थ : शुद्ध-सात्विक आहार तथा पवित्र जल से मन और वाणी पवित्र होते हैं। अर्थात, जो जैसी संगति करता है वैसा ही बन जाता है।

-57-

ज्यों तिल मांही तेल है, ज्यों चकमक में आग ।
तेरा साईं तुझमे है, तू जाग सके तो जाग ॥

अर्थ : जिस तरह तिल में तेल होता है, और पत्थरों से आग उत्पन्न हो सकती है, उसी प्रकार भगवान् भी आपके अंतर्गत हैं। उन्हें जगाने की शक्ति पैदा करने की आवश्यकता है।

-58-

कबीर क्षुधा कूकरी, करत भजन में भंग ।
वाकूं टुकडा डारि के, सुमिरन करूं सुरंग ॥

अर्थ : संत कबीरदास कहते हैं कि भूख ऐसी कुतिया के समान होती है, जो कि भजन साधना में बाधा डालती है। इसे शांत करने के लिए अगर समय पर रोटी का टुकडा दे दिया जाए तो फिर संतोष और शांति के साथ ईश्वर का स्मरण हो सकता है।



-59-

कबीरा गर्व ना कीजिये, ऊंचा देख आवास ।
काल पड़ो भू लेटना, ऊपर जमसी घास ॥

अर्थ : अपना शक्ति और संपत्ति देख कर घमंडी मत बनिए। जब इस शरीर से आत्मा निकल जाती हैं तो सबसे शक्तिशाली मनुष्य का देह भी धरती में दाल दिया जाता है, और उसके ऊपर घास उग जाती है।


कबीर दास जी के दोहे

-60-

कबीरा सोया क्या करे, उठि न भजे भगवान ।
जम जब घर ले जाएँगे, पड़ा रहेगा म्यान ॥

अर्थ : अपना सारा समय सोते हुए मत बिताइए। भगवान् को याद कीजिये, क्योंकि यमराज के आने पर (अर्थात मृत्यु के समय ), बिन आत्मा का यह शरीर उस तरह होगा, जैसे बिना तलवार के म्यान।

-61-
कबीरा ते नर अँध है, गुरु को कहते और ।
हरि रूठे गुरु ठौर है, गुरु रूठे नहीं ठौर ॥

अर्थ : जो लोग गुरु और भगवान् को अलग समझते हैं, वे सच नहीं पहचानते। अगर भगवान् अप्रसन्न हो जाएँ, तो आप गुरु की शरण में जा सकते हैं। लेकिन अगर गुरु क्रोधित हो जाएँ, तो भगवान् भी आपको नहीं बचा सकते।
-62-
कबीरा तेरी झोपडी, गल कटीयन के पास ।
जैसी करनी वैसे भरनी, तू क्यों भया उदास ॥

अर्थ : कबीर ! तेरा घर कसाई के पास है तो क्या ? उसकी हरकतों के लिए तू ज़िम्मेदार नहीं है। अर्थात, अपने कर्मों का फल सबको खुद ही भुगतना पड़ता है।

-63-
कबीरा  यह  तन  जात  है , सके  तो  ठौर  लगा  |
कई  सेवा  कर  साधू  की , कई  गोविन्द  गुण  गा  ||

अर्थ : हर व्यक्ति कि मृत्यु तो निश्चित है। इसीलिए अपना जीवन काल उचित एवं लाभकारी कामों में लगाना चाहिए, जैसे कि साधुओं की सेवा और भगवान् कि भक्ति।

-64-
कहे कबीर कैसे निबाहे , केर बेर को संग ।
वह झूमत रस आपनी, उसके फाटत अंग ॥

अर्थ : कबीर कहते हैं कि विभिन्न प्रकृति के लोग एक साथ नहीं रह सकते। उदाहरण के लिए, केले और बेर का पेड़ साथ नहीं उग सकते, क्योंकि जब हवा से बेर का पेड़ हिलेगा तो उसके काँटों से केले के पत्ते नष्ट हो जायेंगे।
-65-
करनी बिन कथनी कथे, अज्ञानी दिन रात ।
कूकर सम भूकत फिरे, सुनी सुनाई बात ॥

अर्थ : अज्ञानी व्यक्ति काम कम और बातें अधिक करते हैं। ऐसे लोग खुद अपना तर्क रखने के बजाय सुनी सुनाई बातों को ही रटते रहते हैं।

-66-
केसों कहा बिगडिया, जे मुंडे सौ बार ।
मन को काहे न मूंडिये, जा में विशे विकार ॥

अर्थ : जो लोग धार्मिक कारणों से बार-बार मुंडन करते हैं, कबीर उनसे पूछतें हैं , कि बालों को किस बात की सज़ा दे रहे हो, जो उन्हें निरंतर मुंडाते रहते हो? इसकी जगह, अपने मन को साफ़ करो, जिसमे बुराईयाँ भरी हुई हैं। अर्थात, अपने विचारों पर ध्यान दो, केवल अनुष्ठानों और क्रियायों पर नहीं।

-67-
खाय पकाय लूटाय ले, करि ले अपना काम ।
चलती बिरिया रे नरा, संग न चले छदाम ॥

अर्थ : मनुष्य को इस जीवन में अपनी शक्ति और साधन का भरपूर प्रयोग करना चाहिए - अपने कामों के लिए, दूसरों कि सहायता के लिए और  परोपकार के कार्यों में। इस तरह उसे अपना जीवन सार्थक करना चाहिए, क्योंकि संसार से जाते समय एक भी वस्तु उसके साथ नहीं जायेगी।

-68-
कोइ एक राखै सावधां, चेतनि पहरै जागि ।
बस्तर बासन सूं खिसै, चोर न सकई लागि ॥

अर्थ : जो हर पहर जागता रहता है, उसके कपड़े और बर्तन कोई नहीं ले जा सकता। अर्थात, हमेशा सचेत और सावधान रहना चाहिए।
-69-
कुटिल  बचन  सबसे  बुरा , जासे  हॉट  न  हार  |
साधू  बचन  जल  रूप  है , बरसे  अमृत  धार  ||

अर्थ : कटु शब्दों और तानों से बदन में जलन की भावना होती है, जब कि मधुर शब्द सुनकर ठंडक पहुँचती है, और ऐसा लगता है कि जैसे अमृत बरस रहा हो ।

-70-

क्या  मुख  ली  बिनती  करो , लाज  आवत है  मोहि।
तुम  देखत  ओगुन  करो , कैसे  भावो  तोही  ||

अर्थ : हे भगवान् ! तुझसे प्रार्थना करते हुए मुझे शर्म आती है। क्या तुम मेरी गलतियों और मेरे पापों के बावजूद मुझे अपना सकते हो?

-71-
मान बड़ाई देखि कर, भक्ति करै संसार।
जब देखैं कछु हीनता, अवगुन धरै गंवार।।
अर्थ : दूसरों की देखादेखी कुछ लोग सम्मान पाने के लिये परमात्मा की भक्ति करने लगते हैं, पर जब वह नहीं मिलता तब वह मूर्खों की तरह इस संसार में ही दोष निकालने लगते हैं।

-72-
माटी कहे कुम्हार से, तु क्या रौंदे मोय ।
एक दिन ऐसा आएगा, मैं रौंदूगी तोय ॥

अर्थ : मिट्टी कुम्हार से कहती है कि आज तो तू मुझे पैरों के नीचे रोंद रहा है, लेकिन एक दिन ऐसा आएगा, कि तू मेरे तले होगा | अर्थात, जीवन में मनुष्य चाहे जितना भी शक्तिशाली हो, मृत्यु के बाद उसका शरीर मिट्टी हो जाता है |
-73-

माला तो कर में फिरे, जीभ फिरे मुख माहि ।
मनुआ तो चहुं दिश फिरे, यह तो सुमिरन नाहि ॥

अर्थ : माला घुमाने से, या मंत्रो का उच्चारण करने से ध्यान नहीं होता। अर्थात ध्यान होता है मन को स्थिर करने से, क्रियाएं करने से नहीं।

-74-
मन उन्मना न तोलिये, शब्द के मोल न तोल ।
मुर्ख लोग न जान्सी, आपा खोया बोल ॥
अर्थ : अशांत या व्याकुल अवस्था में किसी के कही हुई बातों का अर्थ नहीं निकलना चाहिए। ऐसी हालत में व्यक्ति शब्दों का सही अर्थ समझने में असमर्थ होता है। मूर्ख लोग इस तथ्य को नहीं जानते, इसलिए किसी भी बात पर अपना संतुलन खो देते हैं ।
-75-

मुख से नाम रटा करैं, निस दिन साधुन संग ।
कहु धौं कौन कुफेर तें, नाहीं लागत रंग ॥
अर्थ : रात दिन भगवान के नाम जपने, और रोज़ साधुओं के साथ संगत करने के बावजूद, कुछ लोगों पर भक्ति का रंग नहीं चढ़ता, क्योंकि वे अपने अंदर के विकारों से मुक्त नहीं हो पाते।

-76-
न्हाये धोये क्या हुआ, जो मन मैल न जाय ।
मीन सदा जल में रहै, धोये बास न जाय ॥
अर्थ : बार बार नहाने से कुछ नहीं होता, अगर मन साफ़ न हो। अर्थात, बाहरी उपस्थिति से ज़यादा महत्वपूर्ण है मानव का चरित्र और उसका स्वभाव। उदाहरण के लिए, मछली सारी ज़िन्दगी पानी में रहती है, पर 'धुल' नहीं पाती - उसमे बदबू फिर भी आती है।
-77-
पांच  पहर  धंधा  किया , तीन  पहर  गया  सोय  |
एक  पहर  भी  नाम  बिन , मुक्ति  कैसे  होय  ||
अर्थ : दिन के आठ पहर में, आप पाँच पहर काम करते हैं, और तीन पहर सोते हैं। अगर ईश्वर को याद करने के लिए आपके पास समय ही नहीं है, तो आपको मोक्ष कैसे मिल सकता है ?

-78-
पाथर पूजे हरि मिले, तो मैं पूजू पहाड़ ।
घर की चाकी कोई ना पूजे, जाको पीस खाए संसार ॥
अर्थ : कबीर कहते हैं कि अगर पत्थर की मूर्ती की पूजा करने से भगवान् मिल जाते तो वे पहाड़ कि पूजा कर लेते। लेकिन मूर्तियों से महत्वपूर्ण वो चक्की है, जिसमे पिसा हुआ अन्न लोगों का पेट भरता है। अर्थात परम्पराओं और प्रथाओं के साथ-साथ अपने काम का भी ध्यान रखना चाहिए।

-79-
पढी गुनी पाठक भये, समुझाया संसार ।
आपन तो समुझै नहीं, वृथा गया अवतार ॥
अर्थ : कुछ लोग बहुत पढ़-लिखकर दूसरों को उपदेश देते हैं, लेकिन खुद अपनी सीख ग्रहण नहीं करते। ऐसे लोगों की पढ़ाई और ज्ञान व्यर्थ है।

-80-
पहिले यह मन काग था, करता जीवन घात ।
अब तो मन हंसा, मोती चुनि-चुनि खात ॥
अर्थ : कबीर कहते हैं कि मनुष्य का मन एक कौआ की  तरह होता है, जो कुछ भी उठा लेता है। लेकिन एक ग्यानी का मन उस हंस के समान होता है जो केवल मोती खाता है।

-81-
पर नारी का राचना, ज्यूं लहसून की खान ।
कोने बैठे खाइये, परगट होय निदान ॥
अर्थ : पराई स्त्री के साथ प्रेम प्रसंग करना लहसून खाने के समान है। उसे चाहे कोने में बैठकर खाओ पर उसकी गंध दूर तक फैल जाती है। अर्थात, इसे छुपाना असंभव है।

-82-
पहले शब्द पहचानिये, पीछे कीजे मोल ।
पारखी परखे रतन को, शब्द का मोल ना तोल ॥
अर्थ : पहले शब्दों का अर्थ पूरी तरह से समझिये। उसके बाद ही उनके कारण या महत्व का विश्लेषण करिये। जौहरी भी केवल रत्नो को तोल सकता है, शब्दों को मापना बहुत कठिन है।

-83-
फल  कारन  सेवा  करे , करे  ना  मन  से  काम  |
कहे  कबीर  सेवक  नहीं , चाहे  चौगुना  दाम  ||
अर्थ : कुछ लोग भगवान् का ध्यान फल और वरदान की आशा से करते हैं, भक्ति के लिए नहीं। ऐसे लोग भक्त नहीं, व्यापारी हैं, जो अपने निवेश का चैगुना दाम चाहते हैं।

-84-
प्रेम  न  बड़ी  उपजी , प्रेम  न  हात  बिकाय  |
राजा  प्रजा  जोही  रुचे , शीश  दी  ले  जाय  ||
अर्थ : प्रेम न खरीदा जा सकता है, और न ही इसकी फ़सल उगाई जा सकती है। प्रेम के लिए विनम्रता आवश्यक है, जाहे राजा हो या कोई सामान्य व्यक्ति।

-85-
प्रेम  प्याला  जो  पिए , शीश  दक्षिणा  दे   |
लोभी  शीश  न  दे  सके , नाम   प्रेम  का  ले  ||
अर्थ : जो प्रेम का अनुभव करना चाहता है, उसे अपना जीवन न्योछावर करने के लिए तैयार होना चाहिए। लालची और स्वार्थी मनुष्य कुछ भी त्यागने में असमर्थ हैं - वे प्रेम की कँवल बातें कर सकते हैं, अनुभव नहीं।

-86-
प्रेमभाव  एक  चाहिए , भेष  अनेक  बनाय  |
चाहे  घर  में  वास  कर , चाहे  बन  को  जाए  ||
अर्थ : व्यक्ति हे हृदय में प्रेम होना चाहिए, उसका रूप या अवस्था चाहे जो भी हो - चाहे वो महल में रहे या जंगल में।
-87-
रात  गवई  सोय  के  दिवस  गवाया  खाय  |
हीरा  जन्म  अनमोल  था , कौड़ी  बदले  जाय  ||
अर्थ : जो व्यक्ति इस संसार में बिना कोई कर्म किए पूरी रात को सोते हुए और सारे दिन को खाते हुए ही व्यतीत कर देता है वह अपने हीरे तुल्य अमूल्य जीवन को कौड़ियों के भाव व्यर्थ ही गवा देता है ।

-88-
साधू भूखा भाव का, धन का भूखा नाही ।
धन का भूखा जो फिरे, सो तो साधू नाही ॥
अर्थ : संत केवल भाव व ज्ञान की इच्छा रखते हैं। उन्हें धन का कोई लोभ नहीं होता। जो व्यक्ति साधू बनकर भी धन-संपत्ति के पीछे भागता है, वह संत नहीं हो सकता।

-89-
सतगुरु की महिमा अनँत, अनँत किया उपगार ।
लोचन अनँत उघारिया, अनँत दिखावनहार ।।
अर्थ : सद्गुरु की महिमा अनन्त है और उनके उपकार भी अनन्त हैं। उन्होंने मेरी अनन्त दृष्टि खोल दी जिससे मुझे उस अनन्त प्रभु का दर्शन प्राप्त हो गए।

-90-
सतगुरु मिला तो सब मिले, ना तो मिला न कोय ।
मात पिता सूत बान्धवा, यह तो घर घर होय ॥
अर्थ : जिसने एक सच्चा गुरु पा लिया, उसने मानो सारा संसार पा लिया। माता, पिता, बच्चे और दोस्त तो सभी के होते हैं, लेकिन गुरु का भाग्य सबको नहीं मिलता।

-91-
श्रम से ही सब कुछ होत है,बिन श्रम मिले कुछ नाही।
सीधे ऊँगली घी जमो, कबसू निकसे नाही ॥
अर्थ : जिस तरह जमे हुए घी को सीधी ऊँगली से निकलना असम्भव है, उसी तरह बिना मेहनत के लक्ष्य को प्राप्त करना सम्भव नहीं है ।

-92-
सोना  सज्जन  साधू  जन , टूट  जुड़े  सौ  बार  |
दुर्जन  कुम्भ  कुम्हार  के , एइके  ढाका  दरार  ||
अर्थ : सोने को अगर सौ बार भी तोड़ा जाए, तो भी उसे फिर जोड़ा जा सकता है। इसी तरह भले मनुष्य हर अवस्था में भले ही रहते हैं। इसके विपरीत बुरे या दुष्ट लोग कुम्हार के घड़े की तरह होते हैं जो एक बार टूटने पर दुबारा कभी नहीं जुड़ता।

-93-
सुख मे सुमिरन ना किया, दु:ख में करते याद ।
कह कबीर ता दास की, कौन सुने फरियाद ॥
अर्थ : अच्छे समय में भगवान् को भूल गए, और संकट के समय ही भगवान् को याद किया। ऐसे भक्त कि प्रार्थना कौन सुनेगा ?

-94-
सुरति करौ मेरे साइयां, हम हैं भौजल माहिं ।
आपे ही बहि जाहिंगे, जौ नहिं पकरौ बाहिं ॥
अर्थ : हे भगवान् ! मुझे याद रखना। मैं इस सागर-रुपी जीवन में बह रहा हूँ, और अगर आपका सहारा न मिला, तो मैं अवश्य ही डूब जाऊंगा।

-95-
तन की जाने मन की जाने, जाने चित्त की चोरी ।
वह साहब से क्या छिपावे, जिनके हाथ में डोरी ॥
अर्थ : भगवान तो सर्व व्यापी एवं सर्वज्ञ है। वह तुम्हारे मन में छुपी भावनायों को भी जानते हैं। जो ईश्वर सारे संसार को चलाता है, उससे कभी कुछ छिपा नहीं रहता।

-96-
बैद  मुआ  रोगी  मुआ , मुआ  सकल  संसार  |
एक  कबीरा  ना  मुआ , जेहि  के  राम  आधार  ||
अर्थ : बीमार हो या चिकित्सक, दोनों की मौत निश्चित है। इस संसार में हर व्यक्ति का का मरना निश्चित है, लेकिन जिसने राम का सहारा ले लिया हो, वो अमर हो जाता है।
-97-
कामी   क्रोधी  लालची , इनसे  भक्ति  ना  होए  |
भक्ति  करे  कोई  सूरमा , जाती  वरण  कुल  खोय  ||
-98-
बैद  मुआ  रोगी  मुआ , मुआ  सकल  संसार  |
एक  कबीरा  ना  मुआ , जेहि  के  राम  आधार  ||

-99-

प्रेम  न  बड़ी  उपजी , प्रेम  न  हात  बिकाय  |
राजा  प्रजा  जोही  रुचे , शीश  दी  ले  जाय  ||
-100-
प्रेम  प्याला  जो  पिए , शीश  दक्षिणा  दे   |
लोभी  शीश  न  दे  सके , नाम   प्रेम  का  ले  ||

-101-
दया  भाव  ह्रदय  नहीं , ज्ञान  थके  बेहद  |
ते  नर  नरक  ही  जायेंगे , सुनी  सुनी  साखी  शब्द  ||

-102-
जहा  काम  तहा  नाम  नहीं , जहा  नाम  नहीं  वहा  काम  |
दोनों  कभू  नहीं  मिले , रवि  रजनी  इक  धाम  ||

-103-
ऊँचे   पानी  ना  टिके , नीचे  ही  ठहराय  |
नीचा  हो  सो  भारी  पी , ऊँचा  प्यासा  जाय  ||

-104-
जब  ही  नाम  हिरदय  धर्यो , भयो  पाप  का  नाश  |
मानो  चिनगी  अग्नि  की , परी  पुरानी  घास  ||

-105-
सुख  सागर  का  शील  है , कोई  न  पावे  थाह  |
शब्द  बिना  साधू  नहीं , द्रव्य  बिना  नहीं  शाह  ||

-106-
बाहर  क्या  दिखलाये , अंतर  जपिए  राम  |
कहा  काज  संसार  से , तुझे  धानी  से  काम  ||

-107-

फल  कारन  सेवा  करे , करे  ना  मन  से  काम  |
कहे  कबीर  सेवक  नहीं , चाहे  चौगुना  दाम  ||
-108-

कबीरा  यह  तन  जात  है , सके  तो  ठौर  लगा  |
कई  सेवा  कर  साधू  की , कई  गोविन्द  गुण  गा  ||

Other related post 👇