Friday, 27 September 2019

कांप गया पकिस्तान नरेंद्र मोदीजी की स्पीच से । Narendra Modi ji speech


👉प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी👈 ने शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र को संबोधित किया. 😊17 मिनट के अपने भाषण में पीएम मोदी ने दुनिया के सबसे बड़े मंच से 17 बड़े संदेश दिए. पीएम मोदी ने अपने भाषण में विकास, पर्यावरण, आतंक, लोकतंत्र😍, जन कल्याण जैसे मुद्दों पर अपनी बात रखी. पीएम मोदी ने सीधे तौर पर पाकिस्तान और कश्मीर का जिक्र नहीं किया, लेकिन पड़ोसी मुल्क को कड़ा संदेश दिया.😍

     🤑  नरेंद्र मोदी जी ने शुक्रवार को पाकिस्तान को टारगेट करते हुए बोला:- अगर से आतंक कम नहीं हुआ तो130 करोड़ भारतीय 🤑जनता की सुरक्षा में मैं भी पीछे नहीं हटुगा। और जो आतंकी हमारे देश में घुसपैठ की एक कोशिश करेंगे उनको मैं भी मुंह तोड़ 😍जवाब दूंगा ।हिंदुस्तान के सारे जवान अगर से एक साथ पैर मार दी थम कर दे तो पाकिस्तान की और दुश्मन देश की धरती हिला देने वाला यह हिंदुस्तान के सबसे कम नहीं। यह संदेश 😍सुनने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और जादू सदमे में आ चुके हैं कि हिंदुस्तान हम में कि हम पर कहीं मुंहतोड़🤪 जवाब देने के चक्कर में पाकिस्तान को नेस्तनाबूद ना🤨 करते हैं।


पीएम मोदी ने पूरी दुनिया को मानवता का संदेश देते हुए कहा, "हम उस देश के वासी हैं जिसने दुनिया को युद्ध नहीं बुद्ध दिए हैं. शांति का संदेश दि😗या है. इसलिए हमारी आवाज में आतंक के खिलाफ दुनिया को सतर्क करने की गंभीरता भी है, साथ-साथ आक्रोश की भी है."

👉प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में उनकी जीवन काल की कुछ अनोखी पेशकश👈

👉प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।👈

👉मोदी नरेन्द्र मोदी का जन्म तत्कालीन मुम्बई राज्य के महेसाना जिले में स्थित वडनगर ग्राम के एक मध्यम - वर्गीय परिवार में 17 सितम्बर , 1950 को हुआ था । इनकी माँ का नाम हीराबेन मोदी🙏 एवं पिता का नाम दामोदरदास मूलचंद मोदी था । भारत पाकिस्तान के बीच द्वितीय युद्ध के दौरान अपने तरुणकाल में उन्होंने स्वेच्छा से रेलवे स्टेशनों पर सफ़र कर रहे सैनिकों की सेवा की । युवावस्था में वह छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद 🙏में शामिल हुए । उन्होंने साथ ही साथ भ्रष्टाचार विरोधी नव निर्माण आंदोलन में हिस्सा लिया । एक पूर्णकालिक आयोजक के रूप में कार्य करने के पश्चात् उन्हें आर . एस . एस . के प्रचारक रहते हुए 1980 में गुजरात विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर परीक्षा दी और एम . ए . की डिग्री प्राप्त की । अपने माता - पिता की कुल छः संतानों में तीसरे पुत्र नरेन्द्र ने बचपन में रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने में अपने पिता का भी हाथ बँटाया । वडनगर के ही एक स्कूल मास्टर के अनुसार नरेन्द्र हालाँकि एक औसत दर्जे के छात्र थे । लेकिन वाद - विवाद और नाटक प्रतियोगिताओं में उसकी बेहद रुचि थी । इसके अलावा उसकी रुचि राजनीतिक विषयों ☺पर नई - नई परियोजनाएँ प्रारंभ करने की भी थी । 13 वर्ष की आयु में नरेन्द्र की सगाई जसोदा बेन चमनलाल के साथ कर दी गई और जब उनका विवाह हुआ , वह मात्र दिया । वह मात्र 17 वर्ष के थे । शादी के कुछ बरसों बाद नरेन्द्र मोदी ने घर त्याग और एक प्रकार से उनका वैवाहिक जीवन लगभग समाप्त - सा ही हो गया । नरेन्द्र जब विश्वविद्यालय के छात्र थे तभी से वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की का में नियमित जाने लगे थे । इस प्रकार उनका जीवन संघ के एक निष्ठावान नारक के रूप में प्रारभ हुआ उन्होंने शुरुआती जीवन से ही राजनीतिक सक्रियता बलायी और भारतीय जनता पार्टी का जनाधार मजबूत करने में प्रमुख भूमिका भाई । गुजरात में शकरासह वाघेला का जनाधार मजबूत बनाने में नरेन्द्र मोदी की । शाखा प्रचार ही रणनीति थी । अप्रैल 1990 में जब केंद्र में मिली जुली सरकारों का दौर शुरू हुआ , मोदी की मोहनत रंग लायी , जब गुजरात में 1995 के विधान सभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने अपने बलबूते दो तिहाई बहुमत प्राप्त कर सरकार बना ली । 1995 में राष्ट्रीय मंत्री के नाते उन्हें पाँच प्रमुख राज्यों में पार्टी संगठन का काम दिया गया जिसे उन्होने बखूबी निभाया । 1998 में उन्हें पदोन्नत करके राष्ट्रीय महामंत्री ( संगठन ) का उत्तरदायित्व दिया गया । इस पद पर वह अक्टूबर 2001 तक काम करते रहे । भारतीय जनता पाटी ने अक्टूबर 2001 में केशुभाई पटेल को हटाकर गजरात के मख्यमंत्री पद की कमान नरेन्द्र मोदी को सौंप दी । 2001 से 2014 तक वे निरंतर मख्यमंत्री के पद पर आसीन रहे । 2014 में भारत के सभी राजनीतिक दलों को पछाड़ते हए नरेन्द्र मोदी जी पूर्ण बहुमत से जीतकर भारत के प्रधानमंत्री बने । जनता उन्हें बेहद पसंद करती है । उनका उद्देश्य है सर्व रोजगार एवं स्वच्छ भारत । इस हेतु वे निरंतर प्रयासरत हैं । वे स्वभाव से अत्यधिक शालीन हैं । वे एक सफल राजनेता एवं कवि हैं । हम सब आशा करते हैं कि वे भारत को बुलंदियों तक लेकर जाएँगे ।👈

🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
By
Celebration is here

No comments:

Post a Comment